For the best experience, open
https://m.uttranews.com
on your mobile browser.
अभी अभीदेशदुनियाबिजनेसप्रौद्योगिकीसाहित्यकुछ अनकहीसिटीजन जर्नलिज़्ममुद्दासंस्कृतिशिक्षाखेलउत्तराखंडअपराधराजनीतिअल्मोड़ाबागेश्वरबेतालघाटबेरीनागभतरोजखानरामनगरहरिद्धारदेहरादूनताड़ीखेतनैनीतालसोमेश्वरपिथौरागढ़हल्द्धानीऊधम सिंह नगररानीखेतकालाढूंगीरूद्रपुरचम्पावतलोहाघाटटनकपुरविविधशांतिपुरीजॉब अलर्टगरुड़झारखंडकाशीपुरदुर्घटनाचमोलीउत्तर प्रदेशजॉबटिहरी गढ़वालसेनाउत्तरकाशीहिमांचल प्रदेशकपकोटचुनावहरिद्वारकोरोनापर्यावरणखटीमाआपदापौड़ी गढ़वालकोटद्वाररूड़कीरूद्रप्रयागAbout UsPrivacy PolicyEthics PolicyFACT CHECKING POLICYCorrections PolicyOwnership & Funding InformationEditorial teamरानीखेतsportखेलकूदमनोरंजन
Advertisement

जिला अस्पताल के पीएमएस को बताई चिकित्सालय की ज्वलंत समस्याएं

05:08 AM Sep 23, 2022 | editor1
जिला अस्पताल के पीएमएस को बताई चिकित्सालय की ज्वलंत समस्याएं
Advertisement

The burning problems of the hospital told to the PMS of the district hospital

Advertisement

अल्मोड़ा, 23 सितंबर 2022- सामाजिक कार्यकर्ता संजय कुमार पांण्डे ने पंडित हर गोविंद पंत जिला चिकित्सालय अल्मोड़ा में व्याप्त ज्वलंत समस्याओं को लेकर अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर पवन कुमार सिन्हा से मुलाकात की।
पीएमएस को सौंपे शिकायती पत्र में कहा कि अल्मोड़ा जिला चिकित्सालयों में कई बार कई समस्याये हैं जिनका समाधान होना जरुरी है।

पांडे ने चिकित्सालय में निशुल्क होने वाली पैथोलॉजी जांचों की जानकारी प्रत्येक वार्डों में फ्लेक्सी व् पोस्टर के माध्यम से चस्पा किए जाने,
अस्पताल में उपलब्ध सुविधा के बाद भी बाहर से जांच कराने वाले चिकित्सकों पर व् विभागीय कर्मचारियों पर कार्रवाई किए जाने व उत्कृष्ट कार्य करने वाले चिकित्सकों व् कर्मचारियों को प्रोत्साहित करने, सरकार द्वारा अनुबंधित निजी पैथोलॉजी के टेस्ट रिपोर्ट में खामियां पाए जाने तो चिकित्सकों को भी जन हित में इसकी सूचना लिखित रूप में अपने उच्चाधिकारियों को देने।

Advertisement


जिला चिकित्सालय को नो स्मोकिंग जोन घोषित किया जाय। परिसर के अन्दर धूम्रपान, बीडी , सिगरेट, गुटका आदि को प्रतिबंधित किया जाय जो भी व्यक्ति व् कर्मचारी इनका उल्लंघन करे उनका चालान किया जाय,इसकी जानकरी फ्लेक्सी व् पोस्टर के माध्यम से चिकित्सालय के मुख्य गेट व् स्थानों पर चस्पा किया जाय|
उन्होंने कहा कि इस समय पूरे अल्मोड़ा शहर में केवल एक सिटी स्कैन मशीन है वो भी अक्सर ख़राब रहती है सिटी स्कैन मशीन के अभाव में लोगों को हल्द्वानी जाना पड़ता है, इस परेशानी को मद्देनजर रखते हुए जिला चिकित्सालय में एक नई सिटी स्कैन मशीन स्थापित किये जाने की मांग की।

उन्होंने कहा कि पिछले कोविड काल में आक्सीजन प्लांट जिला चिकित्सालय अल्मोड़ा में स्थापित किये गये थे पर बड़े आश्चर्य की बात है इन दिनों ये प्लांट पिछले कई दिनों से बंद पड़ा है, प्लांट के बंद होने से इसका लाभ जिला चकित्सालय में भर्ती मरीजों को नही मिल पा रहा है अतः मरीजों की सुविधा के लिए इसे पुनः चालू करवाया जाय।
मरीजो के लिए जन ओषधि केंद्र में दवाईयाँ उपलब्ध कराकर,रोगियों को सस्ती दवाईयों का लाभ दिलवाया जाय।


साथ ही उन्होंने इन दिनों जिला चकित्सालय में में आने वाले मरीजों की पर्चियों पर पर्ची काउंटर पर एक मुहर नहीं लग रही है जिस पर लिखा था, की सरकारी पर्चे पर बाहर की दवाईयां लिखना और खरीदना प्रतिबंधित है, इससे पहले सभी पर्चियों पर ये मुहर लगती थी पिछले दिनों इस मामले को मुख्य महानिदेशक स्वास्थ्य के समक्ष भी उठाया था, जिस पर इन्होने मुझे बोला था की सभी पर्चियों पर मुहर लगेगी पर दखने में ये आ रहा है की केवल एक काउंटर वाले ही कुछ ही पर्चियों पर यह मुहर लगा रहे है जब की सभी के लिए ये अनिवार्य है।

पांडे ने कहा कि इन दिनों एक नई व्यवस्था देखने को मिल रही है जिसके तहत अब केवल दिन में 40 अल्ट्रासाउंड किये जाएंगे और 10 विशिष्ट लोगों के लिए किये जाएंगे जो की बिलकुल ही अनुचित है,चकित्सालय को भी मंदिर का दर्जा दिया जाता है, और मंदिर में सभी लोग बराबर होते है अतः विशिष्ट लोगों के कोटे को तत्काल खत्म किया जाय,इस बात का खास ख्याल रखा जाय की जो भी गंभीर मरीज है, उसका प्राथमिकता से बैगर किसी भेद भाव के उपचार किया जाय व् साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाय की मरीज का अल्ट्रासाउंड निश्चित समयावधि में किया जाय इसके लिए मरीज के पर्चे पर एक्सरे व् अल्ट्रा साउंड की तारीख दर्ज की जाय।

संजय पांण्डे द्वारा बताया गया कि मरीजों के लिए सरकार द्वारा अनुबंधित चंदन लैब में लगभग सभी सामान्य टेस्ट फ्री है कुछ और नए टेस्ट भी अभी सूची में जुड़े है जिसकी जानकारी सामाजिक कार्यकर्ता द्वारा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को व्हाट्सअप द्वारा उपलब्ध करवा दी गयी है,उन्होंने जनता से फ्री टेस्ट का लाभ उठाने की अपील की है, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक द्वारा सभी शिकायतों का उचित निस्तारण करने की बात कही गयी साथ ही यह भी बताया कि चिकित्सालय में मरीजों को बेहतर इलाज मिले इसके लिए प्रयास किये जा रहे है,इस अवसर पर फड़ एसोसिएशन अल्मोड़ा के अध्यक्ष नवीन चन्द्र आर्य भी मौजूद थे।

Advertisement
×